जशपुरान्चल
Thursday 21 oct 2021 08:10 AM


Breaking News
गौ मांस तस्कर के शातिर व अन्तिम अपराधी को पुलिस ने किया गिरफ्तार    |    बिजली की बदहाल व्यवस्था को लेकर ग्रामीण महिलाओं ने बिजली कार्यालय का किया घेराव    |    मुंबई के रिहायशी इलाके में क्रैश हुआ एक चार्टर्ड प्लेन, 5 लोगों की मौत    |    कोतबा पुलिस चौकी ने गांजा तत्स्करी कर ओडिसा ले जा रहे कार को पकड़ा ।    |    BIG BREKING: छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलराम जी दास टंडन का दुखद निधन    |    देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी का निधन    |    ब्रेकिंग : भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुस जैश के आतंकी कैंपों को किया ध्वस्त: सूत्र    |    देश सहित राज्य के सभी जिला व क्षेत्रीय अस्पताल अलर्ट पर हैं ,पर इस पंचायत की स्वास्थ्य व्यवस्था की कोई सूद लेने वाला नहीं लटक रहा टाला    |   

किसानों को खाद-बीज के लिए दिक्कत न हो: सहकारिता मंत्री डॉ. टेकाम


किसानों को खाद-बीज के लिए दिक्कत न हो: सहकारिता मंत्री डॉ. टेकाम
किसानों को खाद-बीज के लिए दिक्कत न हो: सहकारिता मंत्री डॉ. टेकाम
23-06-21 07:05:06         sourabh tripathi


चालू खरीफ सीजन में अब तक 2039 करोड़ का कृषि ऋण वितरित-

            रायपुर, 23 जून 2021/ सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने राज्य में हो रही अच्छी बारिश और खरीफ फसलों की बुआई में मद्देनजर सोसायटियों में खाद-बीज की पर्याप्त मात्रा का भण्डारण सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों दिए हैं। उन्होंने कहा है कि खरीफ की बुआई जोर पकड़ने लगी है। इसको देखते हुए किसान खाद का उठाव तेजी से करने लगे है। समितियों में सभी प्रकार के रासायनिक उर्वरकों एवं खरीफ फसलों के बीज का सतत् भण्डारण सुनिश्चित करें ताकि किसानों को किसी भी तरह की दिक्कत न हो। सहकारिता मंत्री डॉ. टेकाम मंगलवार को मंत्रालय में सहकारिता विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर खाद-बीज के भण्डारण एवं वितरण की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। समीक्षा बैठक में विशेष सचिव सहकारिता एव पंजीयक सहकारी संस्थाएं श्री हिमशिखर गुप्ता, मार्कफेड के प्रबंध संचालक सुश्री किरण कौशल, अपेक्स बैंक के प्रबंध संचालक श्री के.एन.कान्डे, ओएसडी अविनाश श्रीवास्तव उपस्थिति थे। बैठक में अपर पंजीयक, संयुक्त पंजीयक, उप पंजीयक तथा सहायक पंजीयक, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंकों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी वर्चुअल रूप से शामिल हुए।

          चालू खरीफ फसलों के लिए निर्धारित लक्ष्य राशि रूपये 5300 करोड़ के विरूद्व 21 जून तक 2039 करोड़ का अल्पकालीन कृषि ऋण वितरण 5 लाख 26 हजार 933 किसानों को किया जा चुका है, जो कि लक्ष्य का 38 प्रतिशत है। राज्य शासन द्वारा सहकारिता के माध्यम से खरीफ सीजन के लिए 7 लाख 25 हजार मीट्रिक टन उर्वरक वितरण का लक्ष्य रखा गया है, जिसके विरूद्व 21 जून तक सहकारी समितियों के गोदामों में 3 लाख 77 हजार 197 मीट्रिक टन उर्वरक भंडारण एवं 2 लाख 31 हजार 720 मीट्रिक टन उर्वरक का उठाव किसानो में किया जा चुका है।

       समीक्षा बैठक में अधिकारियों ने बताया कि 21 जून तक यूरिया का कुल भंडारण एक लाख 66 हजार 225 मीट्रिक टन के विरूद्ध किसानों को एक लाख 15 हजार 632 मीट्रिक टन वितरण, डीएपी का कुल भंडारण एक लाख 479 मीट्रिक टन एवं किसानों को 63 हजार 125 मीट्रिक टन वितरण, इफको का कुल भंडारण 30 हजार 579 मीट्रिक टन एवं किसानों को 14 हजार 872 वितरण, पोटाश का कुल भंडारण 32 हजार 581 मीट्रिक टन एवं किसानों को 15 हजार 488 मीट्रिक टन एवं सुपरफास्फेट का कुल भंडारण 47 हजार 333 मीट्रिक टन एवं किसानों को 22 हजार 603 मीट्रिक टन का वितरण किया जा चुका है। सहकारी समितियों के गोदामों में सभी तरह के उर्वरकों का अभी एक लाख 45 हजार 477 मीट्रिक टन का स्टाक है। सहकारी समितियों में 5 लाख 17 हजार 376 क्ंिवटल खरीफ फसल के प्रमाणित बीज का भंडारण एवं 3 लाख 29 हजार 245 क्ंिवटल बीजों का वितरण किसानों को किया गया है। 





ताजा ख़बरें